एकता में बल hindi story

Spread the love

एकता में बल hindi story

Hindi kahaniyan

 

एकता में बल हरि के पास 2 बैल थे एक का नाम सीता और दूसरी का नाम गीता था। दोनो बोहोत ही निडर और बहादुर थी। जंगल का कोई भी जानवर उनके सामने आने तक की हिम्मत नही करता था वे दोनो हमेशा एक दूसरे की ताकत बन कर रहती थी। वो साथ में चरती मालिक का कहना मानती और बहुत खुश रहती। लेकिन एक बार_____

 

एक दिन की बात है सीता और गीता जंगल में घास चर रही थी तभी सीता को प्यास लगी और वो बोली, गीता मैं नदी पर पानी पीने जा रही हूं जब तुम खा लोगी तो तुम भी आ जाना। सीता चली गई गीता वही रही वहीं ये सब एक शेर देख रहा था उसने जब देखा की ये दोनो अलग अलग हो गई हैं तो वो गीता के पास गया और उसे सीता के बारे में भड़काने लगा वो बोला, गीता तुम अकेली यहां क्या कर रही हो तुम्हारी सहेली कहीं दिखाई नहीं दे रही।

गीता ने कहा वो मेरे साथ ही थी उसे प्यास लग रही थी तो वो पानी पीने चली गई खैर! तुम्हे उससे क्या!??

शेर, अरे गीता तुम बहुत भोली हो तुम नही जानती सीता तुमसे जलती है वो सोचती है की उससे सुंदर कोई नही है तुम भी नही वो तुम्हारे साथ रहना नही चाहती इसलिए तुम्हे यहां छोड़ गई ताकि तुम्हे कोई जानवर मार डाले। गीता बेचारी शेर की बातो मे आ गई और इन्ही सब के बारे में सोचते सोचते वहां से वापस मालिक के घर चली गई।

उधर सीता नदी पर इंतजार कर रही थी लेकिन गीता नही आई तभी वहां शेर आया और उसे भी भड़काना शुरू कर दिया अब गीता  भी शेर की मीठी बातो में आ गई। अब वो दोनो ही एक दूसरे से नफरत करने लगी अब वे दोनो अलग अलग रहती अलग घूमती यहां तक की एक दूसरे की तरफ देखती भी नही थी।

ऐसे ही एक दिन सीता अकेले जंगल में घास चर रही थी।

उसे वहां अकेला देख शेर को मौका मिल गया और वो उसके पास जा कर बोला, तुम कितनी बेवकूफ हो मैने तुम्हारी दोस्त के बारे में जरा सा झूठ बोला और तुमने मेरी बात पर भरोसा कर लिया।

अब तुझे कौन बचाएगा! इतना कहते ही शेर ने सीता पर हमला कर दिया और उसे मार डाला।

सीता की आवाज सुन गीता वहां आई और फिर चतुर शेर ने उसे भी मार दिया।

 

तो देखा दोस्तो जब तक वो दोनो साथ थी कोई उनके सामने आने की भी हिम्मत नही करता था लेकिन जैसे ही अलग हुई दोनो मारी गई।

इसीलिए कहा है की एकता में बल है।

और एक और बात हमे कभी भी किसी की बातो में आकर अपनो से दुश्मनी नहीं रखनी चाहिए।

 

One thought on “एकता में बल hindi story

Leave a Reply

Your email address will not be published.